1. विकास के सर्वोच्छ प्रमाण मे एक है परिवहन क्षेत्र। बेहतर सडकें विकास कि दर को बडोतरी देते है।
  2.  जिस जगह परिवहन व्यवस्था सही हो वहा पर प्रगती मे तेजी दिखाई देती है। 
  3. भारत जैसे राज्य मे परिवहन क्षेत्र की अहम भूमिका है। 
  4. इसे मद्दे नजर रखते हुए मेघा इंजीनियरिंग अन्ड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (MEIL) इस क्षेत्र मे महत्वपूर्ण कदम उठा रही है। 
  5. इस तरह से आम आद्मी का जीवन उजागकर करने मे अपना योगदान दे रही है। 
  6. पब्लिक-प्रैवेट भागीदारी में सड़क निर्माण में विकास और विस्तार किए जा रहे हैं।
  7.  सडक निर्माण, विस्तार, विकास के साथ ही साथ रेल्वे लैन, एयर लैन क्षेत्रों मे भी अपना पहचान बनाकर मेघा इंजीनियरिंग अब पब्लिक-प्रैवेट भागीदारी मे पासिंजर ट्रेन के उत्पादन एवं संचालन में प्रवेश कर रहा है। 
  8. उद्योग, कृषी, सेवा, पर्याटन आदि क्षेत्रो की प्रगति के लिए परिवहन क्षेत्र में बुनियादी व्यवस्था का विकास बहुत ही महत्वपूर्ण है। 
  9. आर्थिक सुधारों के मद्देनजर राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों के विस्तार और विकास पर सरकारें अदिक प्राधान्यता दे रही है। 
  10. मध्यप्रदेश के बीना रेलवे जंक्शन को राजस्थान के कोटा से अनुसंधान करने वाला बीना-कोटा ब्राड गेज परियोजना मे भी मेघा साजेधारी बन गया है। 
  11. इस तहत यह मार्ग मे 12 स्टील के पुल बनाया। 
  12. उत्तराखंड के रिशिकेष-कर्णप्रयाग पुण्यक्षेत्रों को अनुसंधान करते हुए बनाये जा रहे नये ब्राड गेज रेल्वे लैन् के निर्माण मे MEIL महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। 
  13. हिमालय पर्वतों से गुजरने वाला 125 किलोमीटर रेल्वे लैन जहां पर अधिक्तर सुरंग के मार्ग है, उस जगह बहुत जटिल और जरूरी 20 किलोमीटर रेल्वे लैन का निर्माण कर रहा है। 
  14. महाराष्ट्र में कई राष्ट्रीय सडकों को MEIL विकसित कर रहा है। NH 266 और NH 548 सी के तहत बन रही दो-लेन और चार-लेन की कई सडकें है।
  15.  महाराष्ट्र मे गावों को करीबि शहरों से जोड़ने वाले कई मार्गों पर अत्याधुनिक मशीनरी का उपयोग कर 300 किलोमीटर सड़कें बनाकर जनता के लिए उपलब्ध की जाएंगी। 
  16. नागपूर-मुंबई महासमृद्धी मार्ग मे भी मेघा अपना योगदान दे रही है। इस 8 लैन के हैवेलैन मे MEIL 85 किलोमीटर सडक का निर्माण कर रही है। 
  17. राष्ट्रीय सुरक्षा के सबसे रणनीतिक माने जानि वाली जोजिला रोड के निर्माण MEIL ने शुरू किया। 
  18. इसके तहत बनने वाली दो-लेन कि 14.15 किमी लंबी सुरंग एशिया में सबसे लंबी है। 
  19. समुद्र तल से 11,578 फीट की ऊँचाई पर स्थित यह चोटीले क्षेत्र मे मौसम और जगह बहुत अलग हैं। 
  20. सुरंग के अलावा, लगभग 19 किमी की एप्रोच रोड भी बना रहा है।
  21. MEIL पहली सडक परियोजना के तहत हैदराबाद-करीमनगर-रामागुंडम मार्ग पर 206 किलोमीटर लंबी चार-लेन सड़क का निर्माण किया है। 
  22. MEIL की सहायक कंपनी TruJet जुलाई 2015 में अपना काम शुरू किया। 
  23. TruJet 20 से अधिक शहरों के लिए 300 उड़ानें चला रही है। 
  24. TruJet में ATR 720 के 5 विमान हैं। 
  25. केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई उडान योजना में उल्लिखित सभी क्षेत्रों के लिए उड़ान प्रदान करने वाली एकमात्र एयरलाइन TruJet है।