'मेघा' ने बुझाई कोटा के लोगों की प्यास

This is one of the best project in india. Indian is growing faster than the before. Now. We are having larger and best infrastructure projects in india  equal to other countries.Our country is looking forward to build mega construction projects soon.

Kota drinking water project

1. पेयजल आपूर्ति योजना का निर्माण, रखरखाव में दशकों का अनुभव रखने वाले मेघा इंजीनियरिंग कंपनी राजस्थान में भी कुछ पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं को शुरू कर निर्धारित समयसीमा के भीतर पूरी कर चुकी है। 

2. कोटा शहर के साथ औद्योगिक क्षेत्र रणपुर, कृषि उपज मंडी आदि क्षेत्रों में पेयजल की जरूरतों को पूरा करने के उद्देश्य से राजस्थान सरकार द्वारा शुरू किए गए कोटा प्रोजेक्ट को एमईआईएल समय पर पूरा कर विभिन्न क्षेत्रों के लोगों की पेजजल से जुड़ी समस्याओं को दूर कर चुकी है।  
3. चंबल नदी से पानी लेकर उसका शुद्धिकरण कर बाद में उसे कोटा शहर तक पहुंचा रही है। 

4. इसके लिए एमईआईएल ने 75 एमएलडी सामर्थ्य वाले एक वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, 6500 किलो लीटर सामर्थ्य वाले क्लियर वाटर रिजर्वायर, 500 केएल क्षमता वाले ओएचआर का निर्माण किया है। 

5. कुल 37.18 किलो मीटर लंबी पाइप लाइन बिछाने के साथ तीन पंप हाउसों का निर्माण भी किया है।

6. इस प्रोजेक्ट के जरिए करीब 1.5 लाख से 2 लाख लोगों को सुरक्षित पेयजल की आपूर्ती हो रही है।

7. इस वर्ष 15 फरवरी तक निर्माण कार्य पूरा कर चुकी मेघा इंजीनियरिंग कंपनी कोटा शहर के साथ उसके आस-पास के क्षेत्र के लोगों को पेयजल की आपूर्ति कर रही है। 
8. राजस्थान सरकार ने अगले पांच वर्षों तक इस परियोजना के रखरखाव की जिम्मेदारी एमईआईएल को सौंपी है।